MY INNER KARAMA
MY INNER KARAMA
एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम
Para Talks » Conversations of para » एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम

एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम


Date: 17-Mar-2001
 
Increase Font Decrease Font
एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम,
भुला दे ईरा तू अपनी पहचान, हो जाएगी तब,
काका के साथ तेरी पहचान हो जाएगी तब।
जब मिलेगा ईरा का ‘ई’ और काका का ‘क’,
तब होगा हम दोनों का सुर एक।
पर भूलना होगा पहले अपना नाम,
तब मिलेगा हमें प्रभु का नाम।
भूलना है हमें यह, तू तू मैं मैं का खेल,
तब जाके होगा हम दोनों का मेल।
एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम,
यही हैं हमारी पहचान, जब हम होंगे हम।


- ये डॉ. ईरा शाह के लिए “परा” की बातें हैं|


Next
Next
સમજ ના આને તું જીવનની હાર તારી, આ તો છે તારા જીવનની તૈયારી
12...Last
एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम, भुला दे ईरा तू अपनी पहचान, हो जाएगी तब, काका के साथ तेरी पहचान हो जाएगी तब। जब मिलेगा ईरा का ‘ई’ और काका का ‘क’, तब होगा हम दोनों का सुर एक। पर भूलना होगा पहले अपना नाम, तब मिलेगा हमें प्रभु का नाम। भूलना है हमें यह, तू तू मैं मैं का खेल, तब जाके होगा हम दोनों का मेल। एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम, यही हैं हमारी पहचान, जब हम होंगे हम। एक होना है, एक होना है, चाहते हैं हम 2001-03-17 https://www.myinnerkarma.org/conv_para/default.aspx?title=eka-hona-hai-eka-hona-hai-chahate-haim-hama